लालची कुत्ता | Greedy dog story in hindi kahaniya

Greedy dog story in hindi:- नमस्कार दोस्तो आज मैं आपको लालची कुत्ते की कहानी सुनाने जा रहा हूँ यह कहानी अभी तक आपने जो लालची कुत्ते की कहानी पढ़ी है उस कहानी से थोड़ी अलग होगी greedy dog story in hindi कहानी से मैं आपको दो शिक्षा देने की कोसीस करूँगा जो कि मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको पसंद आये ।

लालची कुत्ता The Greedy dog story in hindi

Greedy dog story in hindi

  बहुत समय पहले की बात है एक छोटे से गांव में मोंटू नामक कुत्ता अपने भाई और बहनों के साथ रहता था मोंटू अपने भाइ और बहनों से घुल मिलकर नही रहता था, वह उनसे हमेसा दुर्व्यवहार करता था क्यों की उन सब में से वही बड़ा था, मोंटू बहुत ही लालची कुत्ता था।

  मोंटू जो भी खाना लेके आता तो वह अपने भाइ और बहनों के साथ नही बटता था, उसे लगता की अगर मैन उनके साथ यह खान बाटा तो मुझे खाने को नही मिलेगा वह सारा खान खा जाएंगे, इसलिए वह अपने भाई और बहनों के साथ खाना नही बटता था और उन खानों को अकेले ही खाता था ।

 मोंटू एक दिन ज्यादा खान लेकर आया था लेकीन उसके भाई और बहनों को खाना नही मिला था, तो उसके भाई और बहनों ने सोचा की हम मोंटू से जाके खाना मांग लेते हैं, सब मोंटू के पास गए और बोले भइया हमने सुबह से अभी तक कुछ नही खाया है ।

  क्या आप जो खाना लकेर आये हैं उन खाने में से हमे कुछ दे दोगे मोंटू ने कहा की नही तुमने सुबह से कुछ नही खाया है क्या पता थोड़ा मांगने के बहाने तुम मेरा सारा खान खाजावो इसलिए मैं तुम्हे अपने खाने में से कुछ भी नही दूंगा यहाँ से दफा हो जावो ।

  मोंटू के भाई और बहन वहाँ से निराश होकर चले गए और मोंटू अपने लाये हुए खानों को बड़े ही चाव से खा रहा था एक दिन मोंटू बहुत घुमा खाने की तलाश में सुबह से रात होगई लेकीन मोंटू को खाना कहीं भी नसीब नही हुआ।

  फिर मोंटू उस रात भूखे पेट ही सोगया अगेले सुबह वह फिर से खाने की तलास ने निकल लेकीन मोंटू को उस दिन भी पूरा खोजने के बावजूद उसे खाना नसीब नही हुआ उसने देखा की उसके भाई और बहन ढेर सारा खाना लेकर जा रहे थे ।

  मोंटू ने सोच की अपने भाइ और बहनों से खाना मांग लेता हूँ वह मुझे दे देंगे वह अपने भाइयो के पास गया और बोला सुनो छोटे तुम अपने खाने में से मुझे थोड़ा से देदोगे मैन दो दिन से खाना नही खाया है और अगर मैन इसी तरह खाना नही खाया तो मार जाऊंगा।

  उसके भाई ने बोला हम भी तुम्हारे पास खाने मांगने आये तो तुमने हमे यह कहकर भाग दिया की तुम सबने सुबह से कुछ नही खाया है अगर मैं तुम्हे अपना खाना दे दूंगा तो मेरे लिए क्या बचेगा तुमने तो दो दिन से कुछ नही खाया है ।

 फिर तो तुम हम सब का खान एक ही बार में खा जावोगी जावो हम तुम्हे खाना नही देंगे कंही और जावो हमारे पास तुम्हारे लिए कुछ नही है, मोंटू वहाँ से नीरस होकर चला गया और उसे अपनी गलती का एहेसास भी हुआ ।

  लेकीन इस एहेसास से उसका पेट नही भरा वह रास्ते से नीरस होकर जा ही राह था तभी उसे रास्ते में पड़ी एक हड्डी मोंटू ने देखा उस हड्डी को देखकर मोंटू बहुत ही खुस हुआ और जल्दी से जाकर उस हड्डी को अपने मुह में पकड़ लिया ताकि दूसरे की नजर उसके ऊपर ना पड़े और उस हडफी को लेकर अपने घर जाने लगा ।

  मोंटू जिस रास्ते से अपने घर जा रहा था उस रास्ते में एक नदी पड़ती थी मोंटू ने अपनी परछांई को उस नदी में देखा और अपने मन में सोचने लगा की इस कुत्ते के पास भी एक हड्डी है और अगर यह हड्डी मुझे मिल जाए तो मेरे पास दो हड्डी होजाएगी जिससे मेरे दो दिन के खाने का बंदोबस्त हो जाएगा ।

  लेकीन मैं इस कुत्ते से हड्डी कैसे लू एक काम करता हूँ मैं जोर जोर से भौकता हूँ, कुत्ता मेरे जोर जोर से भोकने से डर कर अपनी हड्डी छोडक़र यहां से भाग जाएगा, और उस हड्डी को मैं लेलूंगा ।

  मोंटू ने जैसे ही भौकने के लिए अपना मुह खोल तो उसके मुह में जो हड्डी थी वह पानी के अंदर गिर गई और मोंटू वहाँ से उदास होकर चला गया ।

नैतिक शिक्षा:- इस कहानी से हमे दो सिख मिलती है

पहली:- हमे हमेसा मुसीबत में हर किसी की मदत करनी चाहिए क्या पता उनकी जरूरत हमे कब पड़ जाए, अगर मोंटू ने अपने भाई और बहन की सहायता की होतो तो उसके भाई और बहन भी उसकी सहयता करते ।

दुशरी:- हमें कभी भी लालच नही करनी चाहिए जितना मिला है उतने में ही संतुस्ट रहना चाहिए, अगर मोंटू उस दूसरे हड्डी का लालच ना करता तो उसका पेट भर जाता उस एक हड्डी से लेकीन उसने लालच किया और मोंटू को अपनी हड्डी भी नादिब नही हुई ।

Moral stories in hindi for class 3
Moral stories in hindi for class 7
Short moral stories in hindi

तो मेरे प्यारे दोस्तो कैसी लगी आपको greedy dog story दो शिक्षाओं के साथ मुझे कमेंट कर के जरूर बताएं और अगर आपको यह कहानी पसंद आई तो अपने मित्रो के साथ जरूर शेयर करे