बकरी बानी गायका | bakri bani gayak majedar hindi kahaniya

बकरी बानी गायका funny Majedar hindi kahaniya 


   एक जंगल में दो बकरिया रहती थी एक का नाम मीरा और दुशरी बकरी का नाम सीता था, दोनों आपस में अच्छी शहेलिया थी ।

  मीरा बकरी को गाना गाने का बहुत सौक था, वह अपनी सहेली सीता के रहती थी तो गाना गति थी, और उससे पूछती की कैसा लगा तुजे मेरा गाना, सीता बेचारी सच बोल नही सकती थी की कितना बेसुरा है तेरा गाना, वह हमेसा मीरा से झूठ बोलती और कहती की ।

   क्या खूब गाय है तुमने मजा आगया, तुम्हारे जैसी गाइका इस दुनिया में कोई और नही, यह सुनके मीरा बहुत खुस होती थी ।

   एक दिन जंगल में शेर का जन्मदिन था, शेर ने अपने जन्मदिन पर सबको बुलाया था, और इन दोनो बकरियो को भी बुलाया था ।

  बकरी मीरा ने शेर से निवेदन की, की मैं आपके जन्मदिन पर आपके लिए गाना गाना चाहती हूँ, शेर यह सुनकर खुश हुआ की कोई मेरे लिए गाना गाना चाहता है, शेर ने मीरा को मंजूरी दे दी की तुम गाना गा सकती हो ।

  जब मीरा ने गाना गाना सुरु किया तो वहाँ के सभी जानवर मीरा का गाना सुनकर भाग खड़े हुए यह देख के मीरा समझ गई की गाना गाना उसकी बस की बात नही है।